विपक्षी नेताओं को बताया पाकिस्तान का प्रवक्ता, कहा- इन्हें सबक सिखाएगी जनता*–नरेंद्र मोदी

Bharat Darpan updates
141 Views

प्रभु सिंह कुणाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार के जमुई में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सबूत मांगने वाले विपक्षी नेताओं को पाकिस्तान का प्रवक्ता बताया। साथ ही कहा कि जनता ऐसे नेताओं को चुनाव में सबक सिखाएगी।

मोदी ने कहा कि मैंने कभी यह नहीं कहा कि पांच साल में पूर्ण विकास हो सकता है। कांग्रेस ने जो काम 70 साल में नहीं किया मैं पांच साल में कैसे कर सकता हूं। मेरी सरकार ने किया किया है। आगे पांच साल तक मैं निरंतर विकास के काम करता रहूं इसके लिए आपके आशीर्वाद की जरूरत है।

*उमर अब्दुल्ला के बयान पर क्यों साध ली चुप्पी*

जमुई में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने उमर अब्दुल्ला पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं विपक्ष की पार्टियों को चुनौती दी है। उनसे पूछा है कि क्या वे उमर अब्दुल्ला के तो प्रधानमंत्री वाले बयान से सहमत हैं या नहीं। कांग्रेस, राजद और अन्य सहयोगी पार्टियों को इस संबंध में बोलना चाहिए। मैं इंतजार कर रहा था कि कोई तो विरोध करे, लेकिन सबने चुप्पी साध ली। उनकी चुप्पी असलियत को सामने ला रही है।

राष्ट्रीय सुरक्षा, कश्मीर और हमारे वीर जवानों पर वे जो बयान दे रहे हैं। उसे बहुत ध्यान से सुने और उनका हिसाब इस चुनाव में चुकता करें। उनके बयान इस बात का सबूत है कि कैसे दशकों तक देश चलाया और देश को किस स्थिति तक ले आए। राजनीतिक स्वार्थ के लिए आगे क्या करेंगे इसका अनुमान लगा सकते हैं।

ये लोग ऐसे विचारों के साथ खड़े दिखते हैं जो एक भारत के खिलाफ हैं। ये लोग भारत तेरे टुकड़े होंगे के नारे लगाने वाले गैंग को समर्थन देने वाले हैं। पुलवामा हमले के बाद देश के वीर सपूतों ने किस तरह अपने शौर्य का प्रदर्शन किया। भारत के इतिहास में पहली बार आतंकियों के घर में घुसकर सबक सिखाया गया। आज पूरी दुनिया आतंक पर हमारे प्रहार की चर्चा कर रही है, लेकिन महामिलावटी कहते हैं मोदी सबूत दो, सबूत दो..।

*पाकिस्तानी प्रवक्ता जैसी बात कर रहे कुछ लोग*

कुछ लोगों ने सेना को अपना दुश्मन बना लिया है। उनको लगता है सेना पराक्रम करती है और फायदा मोदी को मिल रहा है। इस देश की सेना को परेशान कर क्या देश का भला कर सकते हैं? हमारी सुरक्षा कर सकते हैं? इन लोगों को बताना चाहिए कि उन्हें भारत के सपूतों पर भरोसा है या पाकिस्तान के कपूतों पर।

पूरी दुनिया आज भारत के पक्ष में खड़ी है। ये महामिलावटी बिल्कुल वैसी बातें करते हैं जैसी पाकिस्तान करता है। ये हिन्दुस्तान के सियासी दल कम पाकिस्तान के प्रवक्ता ज्यादा लगते हैं। जमुई, नवादा और मुंगेर को हिन्दुस्तान के हीरो चाहिए या पाकिस्तान के पक्षकार। पाकिस्तान के पक्षकारों को सजा दीजिए।

*नक्सलवाद छोड़ मुख्य धारा में लौट रहे युवा*

नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो युवा भटक गए हैं उन्हें मुख्यधारा में लाने की जरूरत है। हमारे पांच साल के कार्यकाल में पिछले सरकार की तुलना में ढाई गुणा अधिक भटके हुए युवा मुख्यधारा में लौटे।

जब भी कांग्रेस और उसके सहयोगी दल सत्ता में आते हैं तो पूरी शासन प्रणाली को पीछे की ओर ले जाते हैं। जो महंगाई नियंत्रण में रहनी चहिए वह बढ़ने लगती है। आतंकवादी वारदात बढ़ने लगती है। हिंसा बढ़ जाती है। काला धन बढ़ जाता है। वहीं, देश की समृद्धि कम होने लगती है। देश की शाख घट जाती है।

ऐसी रिवर्स गियर वाली पार्टी देश का भला नहीं कर सकती है। इनको न पिछड़ों के मान की चिंता है और न काम की। ओबीसी कमिशन को संवैधानिक दर्जा दिलाना चाहते हैं। आपकी दशकों पुरानी मांग थी। कांग्रेस की सरकार ने ओबीसी कमिशन बनाने में दिलचस्पी नहीं दिखाई। एनडीए सरकार ने जब इस काम के लिए कदम बढ़ाया तो पिछड़ों की बात करने वाले नेताओं ने रोड़े अटकाए। हमारी सरकार ने ओबीसी कमिशन को संवैधानिक दर्जा दिया।

*कांग्रेस ने किया बाबा साहेब की याद मिटाने का प्रयास*

कांग्रेस ने बाबा साहेब की याद को भारत के जनमानस से मिटाने की साजिश की। कांग्रेस को बाबा साहेब याद नहीं आए। बीजेपी और उसके सहयोगियों के लगातार प्रयास से बाबा साहेब को भारत रत्न मिला।

कांग्रेस ने बाबा साहेब के साथ जो किया उसके बाद मैं मानता हूं कि जो भी बाबा साहेब को पूजनीय मानते हैं वे कांग्रेस का साथ नहीं दे सकते। कुछ नेता अपने स्वार्थ के लिए बाबा साहेब के नाम का इस्तेमाल कर रहे हैं। ये वही लोग हैं जो आपातकाल में जेल गए थे। जो जमात कभी जेपी, जेपी कहती थी वह कांग्रेस की गोद में बैठ गई है। बाबा साहेब का मान-सम्मान किसी भी राजनीतिक दल की ऊंचाई से ज्यादा ऊंचा है।

धर्म की राजनीति करने वाले। अपना भला करना चाहते हैं। हर चुनाव में आरक्षण का विषय लेकर आते हैं। आपको डराते हैं। ये ऐसे ही झूठ चलाते रहते हैं। इस बार भी ऐसा किया जा रहा है। मैं बिहार के लोगों को कहता हूं कि इनलोगों को मुहतोड़ जवाब दें। एनडीए की सरकार ने समान्य वर्ग के लिए जो 10 फीसदी आरक्षण का प्रवाधान किया है वह किसी का अधिकार छीने बिना किया।

*कांग्रेस और आरजेडी के राज में बिहार का नहीं हुआ विकास*

मोदी ने कहा कि आरजेडी और कांग्रेस की बिहार विरोधी नीति के कारण इस राज्य का विकास नहीं हुआ था। एनडीए की सरकार ने स्थिति बदलने का प्रयास किया है। जमुई और आसपास के क्षेत्र में विकास के काम किए जा रहे हैं। स्थिति तेजी से सुधर रही है। घरों में पाइप से गैस पहुंचाया जा रहा है। गाड़ियों को सीएनजी ने चलाने की व्यवस्था हो रही है। आपके जीवन को हर तरह से सुगम बनाने पर काम हो रहा है। गांव-गांव तक सड़क पहुंचाना हो या गंगा नदी पर पुल बनाना। काम निरंतर जारी है। पीएम सम्मान निधि से किसानों को पैसा मिलना शुरू हो गया है, जिन्हें अभी मदद नहीं मिली है उन्हें जल्द मिलने वाली है।