जिस ब्यक्ति ने 100 करोड़ का जमीन दान कर अपने जनपद के बच्चों को पढ़ने के लिए उच्च विद्यालय का निर्माण करवाये उस महान ब्यक्ति का मूर्ति और पार्क उपेक्षित रहे बहुत ही निन्दनीय है :-भाई दिनेश

Bharat Darpan updates
102 Views

गांधी संकल्प यात्रा के दौरान
जितौरा बाजार के समीप राम दहिल सिह पल्स टू उच्च विद्यालय के सामने दान वीर शिक्षा विद जिसने पिरो प्रखण्ड के सुदूर इलाकों में शिक्षा का अलख जगाने के लिए अपना 12 बिगहा जमीन जितौरा बाजार से सटे दान दिया था आज उस जमीन का कीमत लगाया जाय तो आज करीब 100 करोड़ रुपये का लगभग होगा ।
वैसे भूमिदाता का मूर्ति बहुत दिनों से खुले आसमान में वर्षो से पड़ा था जब मुझे जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र की जनता ने अपना प्रतिनधि चुना तब मैंने दानवीर राम दहिल सिह का मूर्ति के ऊपर छतरीनुमा शेड बनवाकर मूर्ति के चारो तरफ चारदीवारी कर स्मिर्ति पार्क का निर्माण करवाया था ।
अगले साल ग्रामीण इलाकों में प्रवास के दौरान महुअरी गांव में रात्रि प्रवास किया था और वहां से सुबह मौर्निग वाक करते हुए जितौरा राम दहिल सिह उच्च विद्यालय के मैदान में पहुचकर ब्याम कर रहे थे तो अचानक स्मिर्ति पार्क पर नजर पड़ा मैं वहां पहुचा तो देखा कि पार्क पूरी तरह जंगल मे तब्दील हुआ है ,मूर्ति के अगल बगल गन्दगी फैला हुआ है मैंने उसी समय पार्क की सफाई करने में लग गया ,मैदान में दौड़ने आये कुछ नवयुवक हमे देखकर आ गए सफाई करते देखकर करीब 20 की संख्या में नवजवानों का टीम ने सफाई करने में भीड़ गए दो घण्टा के अंदर पूरी तरह पार्क का सफाई हो गया ।
मैंने उसी समय विद्यालय के प्रचार्य को स्कूल प्रांगण में बुलवाये और कहा की जिनके नाम पर यह स्कूल चल रहा है ,जो ब्यक्ति ने अपना पूरा जमीन दान कर विद्यालय का निर्माण करवाया ,जिनके विधालय से आपका पूरा परिवार खुशहाल है वैसे महान व्यक्ति का मूर्ति अंधेरा में रहे ,उपेक्षित रहे ,गन्दगी और झाड़ी में रहे बहुत ही दुखद और निंदनीय है ।
मैंने प्रचार्य से पार्क का सफाई ,रंग रौशन करने ,लाइट लगाने और पार्क में फूल लगा कर सुंदर सुब्यवस्थित करने को कहा था ।
कल मैंने देखा कि रँगाई तो हुआ है ,रोशनी का ब्यवस्था हुआ है लेकिन पार्क में फूल लगा कर सुब्यवस्थित नही किया गया था और न ही एक साल में उस पार्क को सुरक्षित ,सुंदर और सुब्यवस्थित बनाने का प्रयास किया गया जिससे आज पुनः जंगल की तरह पार्क हो गया है ।
मैं स्वयं और साथ रहे गांधी संकल्प यात्रा पदयात्री पार्क को सफाई करने में लग गए ,सफाई करते देखकर विद्यालय के रात्रि प्रहरी में कार्यरत कर्मचारि ने वहाँ पहुचे अपने बच्चों के साथ और सफाई में लग गए बहुत सफाई भी हुआ ,रात्रि प्रहरी में कार्यरत कर्मचारी ने कहा कि मैं कल इसे बहुत सुंदर बना दूंगा ।
मैं पुनः स्कूल के प्रचार्य से फोन पर बात कर आक्रोश जताया और कहा कि तत्काल दान वीर राम दहिल सिह का मूर्ति और पार्क को सुब्यवस्थित करे अन्यथा आपके विरुद्ध इस जनपद के आम जनता कार्रवाई करवाने के लिए बाध्य होंगे ।